Chand Shayari

Chhedne Lagta Hai Suraj

Chand Shayari - Chhedne Lagta Hai Suraj

Subah Hui Ki Chhedne Lagta Hai Suraj Mujhko,
Kahta Hai Bada Naz Tha Apne Chand Par Ab Bolo.

सुबह हुई कि छेडने लगता है सूरज मुझको,
कहता है बडा नाज़ था अपने चाँद पर अब बोलो।

-Advertisement-

Chand Samne Na Aa

Na Chaahkar Bhi Mere Lab Par
Ye Fariyad Aa Jati Hai,
Ai Chand Samne Na Aa
Kisi Ki Yaad Aa Jati Hai.

न चाहकर भी मेरे लब पर
ये फरियाद आ जाती है,
ऐ चाँद सामने न आ
किसी की याद आ जाती है।

Hasrat Chand Ko Paane Ki

Chand Shayari - Hasrat Chand Ko Paane Ki

Ik Adaa Aapki Dil Churane Ki,
Ik Adaa Aapki Dil Me Bas Jaane Ki,
Chehra Aapka Chand Sa Aur Ek...
Hasrat Humari Uss Chand Ko Paane Ki.

इक अदा आपकी दिल चुराने की,
इक अदा आपकी दिल में बस जाने की,
चेहरा आपका चाँद सा और एक...
हसरत हमारी उस चाँद को पाने की।

-Advertisement-

Chand Ka Muqaddar

Mera Aur Uss Chand Ka Muqaddar Ek Jaisa Hai,
Wo Taaron Me Tanha Main Hajaaron Me Tanha.

मेरा और उस चाँद का मुक़द्दर एक जैसा है,
वो तारो में तन्हा मैं हजारो में तन्हा।

-Advertisement-

Chand Mujhe Bata Tu

Chand Shayari - Chand Mujhe Bata Tu

Ai Chand Mujhe Bata Tu Mera Kya Lagta Hai,
Kyu Mere Saath Sari Raat Jaga Karta Hai,
Main To Ban Baitha Hu Diwana Unke Pyar Mein,
Kya Tu Bhi Kisi Se Bepanah Mohabbat Karta Hai.

ऐ चाँद मुझे बता तू मेरा क्या लगता है,
क्यों मेरे साथ सारी रात जागा करता है,
मैं तो बन बैठा हूँ दीवाना उनके प्यार में,
क्या तू भी किसी से बेपनाह मोहब्बत करता है।

12