Dushmani Shayari

Main Shaad Hun

Wo Dusmani Se Dekhte Hain Dekhte To Hain,
Main Shaad Hun Ki Hun To Kisi Ki Nigaah Me.

वो दुश्मनी से देखते हैं देखते तो हैं,
मैं शाद हूँ कि हूँ तो किसी की निगाह में।

-Advertisement-

Jo Ban Ke Dusman

Wo Jo Ban Ke Dusman Mujhe Jeetne Ko Nikle The
Kar Lete Agar Mohabbat Main Khud Hi Har Jata.

वो जो बन के दुश्मन मुझे जीतने को निकले थे,
कर लेते अगर मोहब्बत मैं खुद ही हार जाता।

Ranjish Bhula Dena

Fursat Mile Jab Bhi To Ranjishen Bhula Dena,
Kaun Jaane Saanso Ki Mohlatein Kahan Tak Hain.

फुरसत मिले जब भी तो रंजिसें भुला देना,
कौन जाने साँसों की मोहलतें कहाँ तक हैं।

-Advertisement-

Tab Dushman Hazaar The

Jab Jaan Pyaari Thi Tab Dushman Hazaar The,
Ab Marne Ka Shauk Hai To Qatil Nahi Milte.

जब जान प्यारी थी तब दुश्मन हज़ार थे,
अब मरने का शौक है तो कातिल नहीं मिलते।

-Advertisement-

Naam Jiska Shamil

Dekha To Wo Shakhs Bhi Mere Dushmano Me Tha,
Naam Jiska Shamil Meri Dhadhkano Me Tha.

देखा तो वो शख्स भी मेरे दुश्मनो में था,
नाम जिसका शामिल मेरी धड़कनों में था।

123