Dil Shayari

Kaun Kahta Hai

Kaun Kahta Hai Ki Dil Sirf Seene Me Hota Hai,
Tujhko Likhun To Meri Ungliyan Bhi Dhadkti Hain.

कौन कहता है कि दिल सिर्फ सीने में होता है,
तुझको लिखूँ तो मेरी उंगलियाँ भी धड़कती है।

Shayari On Heart - Tujhko Likhun To

Uske Shiwa Kisi Aur Ko Chahna Mere Bus Me Nahin,
Ye Dil Uska Hai, Apna Hota To Baat Aur Thi.

उसके सिवा किसी और को चाहना मेरे बस में नहीं,
ये दिल उसका है, अपना होता तो बात और थी।

Read more →

-Advertisement-

Dil Khareed Lete Hain

Na Jaane Kaun Si Daulat Hai Kuch Logo Ke Lafzo Me,
Baat Karte Hain To Dil Khareed Lete Hain.

ना जाने कौन सी दौलत हैं कुछ लोगों के लफ़्जों में,
बात करते हैं तो दिल ही खरीद लेते हैं।

Na Jaane Kaun Si Daulat Hai - Shayari On Heart

Roshni Me Kuchh Kami Rah Gayi Ho To Bata Dena,
Ai Sanam Dil Aaj Bhi Hajir Hai Jalne Ke Liye.

रौशनी में कुछ कमी रह गई हो तो बता देना
ऐ सनम दिल आज भी हाजिर है जलने को।

Read more →

Logon Ke Dilo Pe Raz

Sabdo Se Hi Logon Ke Dilo Pe Raz
Kiya Jata Hai,
Chehre Ka Kya, Wo To Kisi Bhi
Haadse Me Badal Sakta Hai.

शब्दों से ही लोगों के दिलों पे राज
किया जाता है,
चेहरे का क्या, वो तो किसी भी
हादसे मे बदल सकता है।

Read more →

-Advertisement-

Bichhad Ke Bhi Aksar

Mohabbat Nahin Hai Naam Sirf Pa Lene Ka,
Bichhad Ke Bhi Aksar Dil Dhadkte Hain Sath Sath.

मुहब्बत नहीं है नाम सिर्फ पा लेने का,
बिछड़ के भी अक्सर दिल धड़कते हैं साथ-साथ।

Dil Shayari In Hindi - Dil Dhadakte Hain

Dil Se Khayal-E-Sanam Bhulaya Na Jayega,
Seene Me Daag Hai Ki Mitaya Na Jayega.

दिल से ख़याल-ए-सनम भुलाया न जाएगा,
सीने में दाग़ है कि मिटाया न जाएगा।

Read more →

-Advertisement-

Masoom Sa Dil

Dil Pagal Hai Roj Nayi Nadani Karta Hai,
Aag Me Aag Milata Hai Fir Paani Karta Hai.

दिल पागल है रोज़ नई नादानी करता है
आग में आग मिलाता है फिर पानी करता है।

Dil Par Chot Khai Hai Tab To Aah Labo Tak Aayi Hai,
Yun Hi Chhan Se Bol Uthna To Sheeshe Ka Dastoor Nahin.

दिल पर चोट पड़ी है तब तो आह लबों तक आई है,
यूँ ही छन से बोल उठना तो शीशे का दस्तूर नहीं।

Read more →

1234...»